Winter Shopping List For Babies
Winter Shopping List For Babies
Photo Credit: Pixabay
Read this article in English
यह लेख English में पढ़ें।

सितंबर महीने के जाते ही, भारत में सर्दियों की शुरुआत हो जाती है। घर में उपस्थित बढ़े- बुजुर्ग हमेशा कहते हैं कि नवजात शिशु को पहली सर्दी में जितना संभव हो बचाकर रखें क्योंकि पहली सर्दी में (सर्दी – जुकाम) संक्रमित होना शिशु की सेहत पर बहुत बुरा प्रभाव डालता है। ऐसे में, अगर आपका शिशु सर्दियों में जन्म लेने वाला है, तो आपको कुछ चीजें पहले से ही खरीद लेनी चाहिए। आइए, हम नवजात शिशु के लिए सर्दियों में खरीदे जाने वाले सामान की सूची के बारे में बात करते हैं।

जहाँ आपको बच्चे के टीकाकरण का ध्यान रखना होता है, वहीं बच्चे के आहार पर ध्यान देना भी बहुत जरूरी होता है। ठंड और फ्लू क्या है, इसके कारण क्या हैं, इसके सही उपचार कौन से हैं इत्यादि के बारे में विस्तार से जानने के लिए आप हमारा लेख – “अपने बच्चों को ठंड और फ्लू से कैसे सुरक्षित रखें, जरूर पढ़ें।

जरूरी कपड़े

अगर आपके शिशु का जन्म सर्दियों के महीने में होने वाला है, तो आपको नीचे दिए कपड़े पहले से ही खरीद कर एवं इत्यादि से धोकर, पहले से ही तैयार कर लेने चाहिए। ऐसा करने से, बच्चे के जन्म के तुरंत बाद ही आप उसे वह कपड़े पहना सकते हैं।

वार्मर (बॉडी और टांगों के लिए)

बॉडी वार्मर, बच्चे को न सिर्फ ठंड लगने से बचाते हैं, बल्कि उसके शरीर की अंदरूनी गरमाइश बनाए रखने में भी मदद करते हैं।

इन्हें खरीदने से पहले, यह जरूर जाँच लें कि बॉडी वार्मर अंदर से नरम और मुलायम हो। नवजात शिशु की त्वचा बहुत नाजुक होती है। इसलिए कोई भी ऐसा बॉडी वार्मर न चुने, जो घटिया गुणवत्ता वाला हो और जिससे बच्चे की त्वचा को नुकसान हो जाए।

बॉडी वार्मर की तरह ही टांगों के लिए वार्मर खरीदना न भूलें। जैसा हमने अपने लेख में पहले भी कहाँ है कि नवजात शिशु के मामलें में, तापमान में हल्का सा बदलाव भी बहुत नुकसानदेह हो सकता है। इसलिए, सर्दियों में इस बात का खास ध्यान रखना बहुत जरूरी होता है।

ओवरऑल

सर्दियों में जन्म लेने वाले बच्चे के लिए गर्म या ऊनी ओवरऑल भी खरीद लेने चाहिए।

बॉडी वार्मर की तरह ओवरआल भी शरीर का अंदरूनी तापमान स्थिर रखने में बहुत मदद करते हैं क्योंकि यह कन्धों से लेकर पैरों तक पूरी तरह से बंद हो जाते हैं।

जुराबें एवं टोपियां

उम्मीद है आप जानते ही होंगे कि (सर्दी में) ठंडे पैर और नंगा सिर, न सिर्फ बच्चों, बल्कि वयस्कों में भी ठंड लगने का प्रमुख कारण होता है।

इसलिए, सर्दियों में नवजात शिशुओं के सिर और पैरों को ढक कर रखना बहुत जरूरी है।

इसी उद्देश्य से, आपको कुछ जोड़ी गर्म जुराबें एवं टोपियां भी खरीद लेनी चाहिए।

स्वेटर

शिशु को ठंड से बचाए रखने के लिए कम-से-कम दो या तीन अच्छी गुणवत्ता वाले स्वेटर खरीदना न भूलें।

ध्यान रखें, ऐसा कोई भी स्वेटर न खरीदे जिसमें ऐसा कुछ भी लगा हो जो नवजात शिशु के लिए समस्या बन जाए जैसे कि बटन, हुक, या लटकते हुए धागे इत्यादि। स्वेटर चुनने से पहले ऊन की गुणवत्ता को भी परख लें।

नवजात शिशु के लिए बनाए गए जूते

आजकल नवजात शिशु के लिए ऊन इत्यादि से बने छोटे-छोटे जूते भी उपलब्ध हैं, जो न केवल पहने हुए अच्छे लगते हैं, बल्कि नवजात शिशु को ठंड से भी बचाते हैं।

जुराबें लगातार इस्तेमाल के कारण ढीली होकर नीचे की ओर फिसलने लगती हैं। इस वजह से नवजात शिशु को पैरों से ठंड लगने की आशंकाएं बढ़ जाती हैं। ऐसी परिस्थिति में, पैरों में (ऊन से बुने) जूते बहुत मददगार साबित हो सकते हैं।

पायजामे और कमीज

वार्मर और ओवरआल के अलावा, नवजात शिशु के लिए पूरी लंबाई के पायजामे लेना भी बहुत जरूरी है।

सर्दियों में धूप में बैठना न सिर्फ अच्छा लगता है, बल्कि सेहत के लिए भी अच्छा होता है। ऐसे में, बच्चे को ज्यादा गर्म कपड़ों की जगह, पूरी लंबाई के पायजामे और पूरी बाजू की कोई हल्की पर गर्म कमीज पहना कर धूप में लेकर बैठ सकते हैं।

नवजात शिशु को ज्यादा तेज धुप में लेकर न बैठें।

दस्ताने

वैसे तो ओवरऑल दस्तानों और जुराबों की कमी को पूरा कर देते हैं, पर फिर भी हर वक़्त आप ओवरऑल का इस्तेमाल नहीं कर सकते। ऐसे में, हांथों को ढकने के लिए दस्ताने बहुत बढ़िया उपाय है।

दस्ताने न केवल बच्चे को ठंड से, बल्कि नवजात शिशुओं द्वारा बार-बार मुंह में हाथ डालने की वजह से (नाखूनों के कारण) लगने वाली चोट से भी बचाते हैं। इसलिए कुछ जोड़ी दस्तानों पर निवेश करना बहुत जरूरी है।

बच्चे का (वजन में) हल्का पर बढ़िया कंबल

आपको नवजात शिशु के लिए वजन में हल्का पर गुणवत्ता में बढ़िया कंबल लेना चाहिए।

कंबल का वजन बच्चे के लिए परेशानी पैदा कर सकता है। भारी कंबल से बच्चे को सांस लेने में भी दिक्कत हो सकती है।

स्वच्छता संबंधी उत्पाद

हुड तौलिया

2 या 3 हुड तौलिए जरूर खरीद लें। आमतौर पर देखा जाता है कि नहलाने के बाद माता-पिता शिशु को तौलिये में लपेट कर ही बाथरूम से बाहर ले आते हैं। ऐसे में, वह शिशु के सिर को ढकना भूल जाते हैं। आमतौर पर इस्तेमाल होने वाले तौलिए से या तो सिर ढका जा सकता है, या बदन।

इसीलिए आपको हुड तौलिए जरूर खरीदने चाहिए। हुड तौलिए न केवल शिशु के बदन, बल्कि उसके सिर को भी ढकते हैं और शिशु को एकदम से ठंड नहीं लगती।

बेबी बॉडी लोशन

सर्दियों में वयस्कों की तरह, नवजात शिशुओं की त्वचा भी शुष्क हो जाती है। त्वचा का सूखापन, नवजात शिशुओं के मामलें में ज्यादा हानिकारक हो जाता है।

इसलिए, त्वचा की नमी बनाए रखना बहुत जरूरी हो जाता है। ऐसे में बॉडी लोशन एक बढ़िया विकल्प है। बच्चे को स्नान (स्पंज बाथ या स्नान) करवाने के बाद, बॉडी लोशन लगाने से उसकी त्वचा की नमी बनी रहती है।

नवजात शिशु को कैसे नहलाया जाता है

हमने हाल ही में, पतंजलि शिशु केयर बॉडी लोशन की समीक्षा की थी। आप हमारी इस समीक्षा को भी पढ़ सकते हैं।

हाथ प्रक्षालक अर्थात हैंड सैनिटाइजर

हम जानते है कि नवजात शिशुओं की प्रतिरक्षा प्रणाली को पूरी तरह से विकसित होने में समय लगता है। ऐसे में, उनको हर संभव संक्रमण से बचाना बहुत जरूरी होता है।

वैसे तो, बाल रोग विशेषज्ञ कुछ समय तक किसी को भी नवजात शिशु को छूने या चूमने की मंजूरी नहीं देते। लेकिन, फिर भी शिशु को स्तनपान करवाने या उसकी सफाई के समय उसे छूना ही पड़ता है। ऐसी परिस्थितियों में, कई बार हाथ धोना संभव नहीं हो पाता। लेकिन, हाथ प्रक्षालक अर्थात हैंड सैनिटाइजर की मदद से आप अपने हाथों को साफ कर सकते है। इसलिए, हैंड सैनिटाइजर जरूर ख़रीदे।

डाइपर

चाहे सर्दी हो या गर्मी, शिशु को गीले कपड़ों की वजह से परेशानी हो सकती है। ज्यादा देर गीले कपड़े में रहने से शिशु को ठंड लग सकती है और वह बीमार भी हो सकता है।

ज्यादातर मामलों में, सोते वक़्त पेशाब की वजह से नवजात शिशुओं के कपड़े गीले हो जाते हैं। ऐसे में, अगर शिशुओं को (रात्रि के समय) डायपर पहनाया जाए, तो उनको गीलेपन से बचाया जा सकता है। इसलिए आपको कुछ डायपर जरूर खरीद लेने चाहिए।

मार्किट में उपलब्ध सबसे ज्यादा बिकने वाले डायपरों में किसी एक को खरीदने से पहले हमारी डायपरों पर नीचे लिखी समीक्षाएं पढ़नी न भूलें।

  1. हिमालया टोटल केयर बेबी पैन्ट्स – इस्तेमाल के बाद समीक्षा
  2. पतंजलि शिशु केयर डायपर – इस्तेमाल के बाद समीक्षा
  3. हग्गीस वंडर पैन्ट्स – इस्तेमाल के बाद समीक्षा
  4. मैमी पोको पैन्ट्स स्टैंडर्ड – इस्तेमाल के बाद समीक्षा
  5. पैम्पर्स बेबी ड्राई पैन्ट्स – इस्तेमाल के बाद समीक्षा

डायपरों की समीक्षा


डाइपर बैग

शिशु के सामान को व्यवस्थित करने के लिए आपको एक बैग की जरूरत पड़ती है। जरूरत के समय, अगर शिशु संबंधी चीजे न मिलें, तो परेशानी हो सकती है, खासतौर पर जब आप नवजात शिशु के साथ सफर कर रहे हों।

ऐसे में डायपर बैग से आपको काफी मदद मिल सकती है। इससे न केवल आप शिशु के सामान को व्यवस्थित कर पाते हैं, बल्कि हर जरूरी चीज को एक ही जगह पर आसानी से रख भी पाते हैं।

डाइपर रैश क्रीम

डायपर रैशेस, शिशु को बहुत परेशान करते हैं। शिशु बहुत छोटा होता है, इस वजह से उसके लिए रैशेस की पीड़ा को सहन करना बहुत मुश्किल होता है।

डायपर रैश क्यों होते है और इनसे कैसे बचा जा सकता है, इस विषय में हम पहले ही लिख चुके हैं। इस बारे में ज्यादा जानकारी के लिए आप हमारे नीचे दिए लेख पढ़ सकते हैं।

शिशु को यह समस्या न हो, इसलिए हर बार डायपर बदलने से पहले, डायपर रैश क्रीम का इस्तेमाल करना बहुत जरूरी होता है। बाजार में कई तरह की डायपर रैश क्रीम उपलब्ध हैं। हमने हाल ही में, हिमालया डायपर रैश क्रीम एवं पतंजलि शिशु केयर डायपर रैश क्रीम की समीक्षा की थी। आप हमारी इन समीक्षाओं को भी पढ़ सकते हैं।

बेबी वाइप्स

सर्दियों में नवजात शिशु को शौच या पेशाब करने के बाद बार-बार धोने से परहेज करना चाहिए। हालांकि बहुत ही माताएं, ऐसी स्थिति में रुई गीली करके अपने बच्चे की सफाई करती है। लेकिन, आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बच्चे को गंदगी की वजह से कोई संक्रमण न हो, इसलिए बेबी वाइप्स से साफ करना ज्यादा बढ़िया विकल्प है।

मार्किट में बेबी वाइप्स के अनगिनत विकल्प मौजूद हैं। आपको हमेशा ऐसे वाइप्स को चुनना चाहिए, जिनमें किसी तरह का कोई हानिकारक रसायन इस्तेमाल न किया गया हो। इस विषय में ज्यादा जानकारी के लिए आप हमारे नीचे दिए लेख भी पढ़ सकते हैं –

  1. नवजात शिशुओं के लिए बेस्ट बेबी वाइप्स – इस्तेमाल करने के बाद समीक्षा
  2. चिक्को सॉफ्ट क्लीन्सिंग बेबी वाइप्स – इस्तेमाल करने के बाद समीक्षा

बेबी वाइप्स को बहुत ध्यान से चुना जाना चाहिए क्योंकि शिशु की त्वचा बेबी वाइप्स से सीधे संपर्क में आती है। ऐसे में, किसी हानिकारक रसायन से बने वाइप्स का इस्तेमाल करने पर, नवजात शिशु की त्वचा को नुकसान हो सकता है।

शिशु की देखभाल संबंधी अन्य उत्पाद

कपड़े जिनमें स्तनपान करवाना आसान रहे

नवजात शिशु के जन्म के बाद, बच्चे को स्तनपान करवाना, माँ के लिए सबसे बढ़ी चुनौती होती है। सर्दियों के मौसम में आपको भी ठंड लगने का खतरा रहता है।

इसलिए, आपको कुछ ऐसे कपड़े या इनवेअर जरूर खरीद लेने चाहिए, जिनसे आपके लिए स्तनपान करवाना आसान हो जाए।

डिजिटल थर्मामीटर

पुराने तरीके के मरकरी पर आधारित थर्मामीटर बच्चों के लिए बिल्कुल भी ठीक नही होते। ऐसा थर्मामीटर, अगर इस्तेमाल के दौरान टूट जाए और पारा शिशु के शरीर में दाखिल हो जाए, तो समस्या कितनी गंभीर हो सकती है, आप इस बात का अंदाजा भी नहीं लगा सकते।

Tऐसी किसी भी दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति से बचने के लिए, आपको एक डिजिटल थर्मामीटर जरूर खरीदना चाहिए। अब क्योंकि इस थर्मामीटर का शरीर से कोई सीधा सम्पर्क नहीं होता, तो इससे किसी तरह का शारीरिक नुक्सान नहीं होता।

एक्यूश्योर नों-कांटेक्ट थर्मामीटर #FR 800 – इस्तेमाल करने के बाद समीक्षा

ह्यूमिडिफाइयर

हम जानते हैं कि सर्दियों में कमरे का तापमान बहुत शुष्क हो जाता है। ऐसे में, नवजात शिशु के सोने के कमरे में निर्धारित नमी का बना रहना बहुत जरूरी होता है।

इसलिए, अगर आपका बजट स्वीकृति दे, तो आप एक ह्यूमिडिफाइयर (कमरे में वातावरण को नम रखने के लिए बनाया गया एक उपकरण) जरूर खरीद लें।

बेबी स्ट्रोलर

सर्दियों में दिन के समय (केवल खिली हुई धूप के समय) में बच्चे को बाहर सैर इत्यादि के लिए ले जाते वक्त आपको इस बात का खास ध्यान रखना होता है कि बच्चा पूरी तरह से ढका हुआ हो। शिशु को गोद में उठाकर, न तो आप अच्छे से सैर पाएंगी, और न ही बच्चा।

ऐसी में, एक बेबी स्ट्रोलर का होना आपकी इस समस्या को हल कर सकता है। बेबी स्ट्रोलर में न केवल शिशु को सैर करवा पाना आपके लिए आसानी होगा, बल्कि शिशु पूरी तरह से ढका भी रहेगा।

लवलैप टूटी-फ्रूटी बेबी स्ट्रोलर की समीक्षा

लवलैप टूटी-फ्रूटी बेबी स्ट्रोलर पर हमारी समीक्षा पढ़ना न भूलें।

बेबी कार सीट

बेबी स्ट्रोलर की तरह, बेबी कार सीट भी बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। अगर आप नवजात शिशु के साथ कार में सफर करते हैं, तो बेबी कार सीट पर जरूर निवेश करें। बेबी कार सीट न केवल बच्चे की सुरक्षा पुख्ता करती है, बल्कि आपको भी सफर का आनंद लेने देती है।

बेबी स्ट्रोलर की तरह, कार सीट में भी आप बच्चे को अच्छी तरह से ढक कर बिठा सकते हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि गाड़ी में सफर करते समय बच्चा आपकी गोद से ज्यादा कार सीट पर आसानी और आराम से बैठता है। क्या आप जानते हैं कि पश्चिमी देशों में बेबी कार सीट के बिना आप शिशु के साथ सफर नहीं कर सकते?

आर फॉर रैबिट की जैक एन जिल कनवर्टिबल बेबी कार सीट – इस्तेमाल के बाद समीक्षा

इन सब चीजों के अलावा, आपको चाहिए कि आप पहले से ही किसी अच्छे बाल रोग विशेषज्ञ का चुनाव कर लें। आपको कोई ऐसा बाल रोग विशेषज्ञ चुनना चाहिए, जिससे आप किसी भी समय संपर्क कर सकते हों और जो जरूरत पढ़ने पर आपके घर भी आ सके। नवजात शिशुओं के मामले में, बाल रोग विशेषज्ञ का अनुभवी एवं अच्छी प्रतिष्ठा वाला होना बहुत जरूरी है।

इसलिए चुनाव करते समय, उसके विषय में अधिक से अधिक जानकारी एकत्रित करें। उस डॉक्टर के बारे में लोगों की राय ले और सभी पक्षों पर बेफिक्र होने के बाद ही, डॉक्टर को पक्का करें।

Do you need more help?

क्या आपको और मदद चाहिए?

  • Write a Comment
  • Write a Review
  • Ask a Question
Mom's Cuddle Comment Policy
Be kind to others. False language, promotions, personal attacks, and spam will be removed.
Ask questions if any, by visiting Ask a Question section.
टिप्पणी करने की नीति
दूसरों के प्रति उदार रहें, अभद्र भाषा का प्रयोग ना करें और किसी भी तरह का प्रचार ना करें।
यदि कोई प्रश्न हो तो, अपना प्रश्न पूछें सेक्शन पर जाएं।
{{ reviewsOverall }} / 5 User Rating (0 reviews)
How helpful was this article?
What people say... Write your experience
क्रमबद्ध करें

सबसे पहले अपना अनुभव बाँटे।

Verified Review
{{{ review.rating_title }}}
{{{review.rating_comment | nl2br}}}

Show more
{{ pageNumber+1 }}
Write your experience

Your browser does not support images upload. Please choose a modern one

Latest Questions